Hanuman Vs Mahiravana Review In Hindi हनुमान वर्सेज महिरावना मूवी रिव्यु

Hanuman Vs Mahiravana Review In Hindi हनुमान वर्सेज महिरावना मूवी रिव्यु.


रामायण की कहानी हम सब ने सुन रखी है कि भगवान राम ने हनुमान और बांधों के राजा सुग्रीव की सहायता से लंका पर विजय प्राप्त की तथा सीता मैया को छुड़वा लिया था लेकिन फिर भी रामायण की कहानी इतनी बड़ी है कि उसका कुछ हिस्सा आज तक हम सब भी जान पाए हैं
इसलिए ऐसी ही एक कहानी पर प्रसिद्ध कार्टून करैक्टर छोटा भीम के निर्माता कंपनी ग्रीन गोल्ड ने हनुमान वर्सेस महिरावण फिल्म बनाई है इस फिल्म की कहानी है वह रामेश्वर से शुरू होती है जहां पर रामायण से जुड़ी एक साइट पर पुरातात्विक विभाग के लोग खुदाई कर रहे हैं इसी दौरान एक वैज्ञानिक के दो बच्चे अपने पापा के साथ वहां पहुंचते हैं इस पर टीम के हेड उन्हें वहां निकली अजीबोगरीब विचित्र मूर्तियों के बारे में बताते हैं लेकिन वह बच्चे और ज्यादा जाने की जिद करते हैं इसलिए वह नहीं रामायण से जुड़ी एक कहानी बताते हैं जिसमें रावण का सौतेला भाई सम्मिलित है.

इस कथा के मुताबिक राम रावण युद्ध के दौरान जब रावण हार के कगार पर पहुंचता है अर्थात जब से यह ज्ञात होता है कि वह अब हार सकता है उस रात वह एक षड्यंत्र के तहत धोखे से लड़ाई जीतने के लिए अपने ही सौतेले भाई पाताल के राजा महिरावण के पास एक संदेशा भेजता है कि वह यानी महिरावण राम और लक्ष्मण को अगवा करके उनका वध कर दें अथवा उन्हें मर दें .

जो महिरावण होता है वह पहले ही 998 राजकुमारों का वध कर चुका होता है उसे अपना यज्ञ पूरा करने के लिए दो और राजकुमारों की जरूरत थी वह तुरंत बिना किसी देरी के सुग्रीव के खेमे में जाकर धोखे से राम और लक्ष्मण को उठाकर अपने राज्य पाताल में ले आता है
किंतु रावण ने तो अपने भाई महिरावण को विभीषण को मारने के लिए कहा था किंतु उसी समय राम और लक्ष्मण उसके सामने आ जाते हैं जिसकी वजह से विभीषण तो बच जाता है
इसके पश्चात हनुमानजी विभीषण की सहायता से महिरावण के पीछे-पीछे पाताल में चले जाते हैं रावण के भाई महिरावण की ही तरह उसका राज्य भी बहुत ही विचित्र था जब हनुमान वहां जाते हैं तो उन्हें कठिन मुश्किलों का सामना करना पड़ता है किंतु मैंने सिर्फ महिरावण की हत्या कर देते हैं बल्कि राम लक्ष्मण को भी वापस ले आते हैं.

यह थी इस फिल्म की कहानी

पूरी कहानी का मजा उठाने के लिए आपको इस मूवी को देखने जानही पड़ेगा. ये मूवी काफी ज्ञान वर्धक हैं आप इस अपने बचों के साथ देखने जरुर जाएँ . आपके बचे इस कहानी से भुत कुछ सिख सकते हैं .

तथा इस पारकर आप हमारी संस्कृति को भी हमारी आने वाली पीढ़ी में जीवित रख सकते हैं.

इसलिए यदि आप एक माता-पिता  हैं तो आपको अपने बचों के साथ इस मूवी को देखने जरुर जाना चाहिए. और आपके बचों के साथ साथ आपको भी यह मूवी भुत पसंद आएगी क्यूंकि इसमें रामायण के उस हिसे के बारे में बताया गया हैं जिसके बारे में शायद आप भी नहीं जानते. तो इस प्रकार आप भी इस मूवी को देख कर ऊबेगें  नहीं बक्ल्की आपको भी यह मूवी बहुत पसंद आने वाली हैं.



Rajesh Kumar
Rajesh Kumar

This is a short biography of the post author. Maecenas nec odio et ante tincidunt tempus donec vitae sapien ut libero venenatis faucibus nullam quis ante maecenas nec odio et ante tincidunt tempus donec.

No comments:

Post a Comment